एम पी सी डी एफ प्रदेश में आनंद पद्धति पर आधारित सहकारी डेरी कार्यक्रम के तृतीय स्तर पर राज्य स्तरीय संस्था है.  इसका प्रमुख उद्देश्य प्रदेश में सहकारी डेरी कार्यक्रम से जुड़े हुए दुग्ध उत्पादकों के हितों की रक्षा करते हुए शहरी उपभोक्ताओं को उचित मूल्य पर दूध एवं दुग्ध पदार्थ उपलब्ध कराना  है.  इसके प्रमुख कार्य निम्नानुसार हैं-

  • प्रदेश में डेरी विकास कार्यक्रम का विस्तार
  • सहकारी डेरी कार्यक्रम से सम्बंधित नीतिगत निर्णय
  • व्यापारिक एवं विकासात्मक योजनाओं का निर्माण एवं उनका क्रियान्वयन
  • सहकारी डेरी कार्यक्रम क्रियान्वयन में दुग्ध संघों को सहयोग ताकि दुग्ध उत्पादकों एवं उपभोक्ताओं दोनों के हितों की रक्षा हो सके
  • दुग्ध संघों को उनके पास उपलब्ध अतिरिक्त दूध के राज्य मिल्क ग्रिड अथवा राष्ट्रीय मिल्क ग्रिड के माध्यम से निष्पादन में सहयोग
  • दुग्ध संघों को दुग्ध उत्पादों के बुक मात्र में क्रय / विक्रय में सहयोग
  • दुग्ध उत्पादों की अंतर्संघीय दरों का निर्धारण
  • कैडर अधिकारियों का प्रबंधन
   
 
 
BASE.gif (3467 bytes)